What is PNG Full Form? PNG का Full Form क्या होता है? जानें PNG के बारे में जरूरी बातें…

PNG Full Form

दोस्तों क्या आपने कभी PNG शब्द सुना है? या क्या आप जानते हैं की PNG kya hota hai? PNG की फुल फॉर्म (PNG Full Form) क्या होती है?

नमस्कार दोस्तों the nitin tech.com पर आप सभी का स्वागत है। क्या आप भी इंटरनेट पर PNG के बारे मे (PNG Full Form) ढूंढ रहे है? यदि हाँ तो आज मैं इस आर्टिकल के जरिए आपको PNG kya hota hai? PNG ka Full Form kya hota hai? के बारे में डिटेल में बताने जा रहा हूँ। इस पोस्ट को पढ़कर आप PNG kya hota hai? (PNG Full Form) के बारे में जान सकेंगे।

PNG kya hota hai? (PNG Full Form)

तो दोस्तों आपको बता दें कि PNG की Full Form Portable Network Graphics (पोर्टेबल नेटवर्क ग्राफिक) होता है।

PNG Full Form : Portable Network Graphics

PNG Full Form in Hindi : पोर्टेबल नेटवर्क ग्राफिक 

PNG Full Form : Portable Natwork Graphics

Portable Network Graphics (PNG) क्या होता है? What is Portable Network Graphics (PNG)

Portable Network Graphics (PNG) डिजिटल इमेजेस का एक फाइल फॉर्मेट होता है जैसे JPEG, JPG, GIF, TIFF, BMP या RAW आदि डिजिटल इमेजेस की फाइल्स होती हैं उसी तरह Portable Network Graphics (PNG) भी डिजीटल इमेजेस की एक फाइल फॉर्मेट होती है। इन फाइल्स का एक्सटेंशन “.png” होता है।  

 Portable Network Graphics (PNG) Image Format को अपने से पिछले इमेज Format GIF को Improve करने के लिए बनाई गई थी।

Portable Network Graphics (PNG) फ़ाइल फॉर्मेट एक ओपन फॉर्मेट होता है जिसमें कोई Copyright सीमा नहीं होती है। Portable Network Graphics (PNG) को GIF इमेज फॉर्मेट के ऑप्शन के तौर पर एक Open Format में बनाया गया था, क्योंकि GIF के पेटेंट का स्वामित्व एक ही कंपनी के पास था और कोई भी उसे इस्तेमाल करने के लिए लाइसेंस फीस नहीं देना चाहता था। 

Portable Network Graphics (PNG) Image Format भी GIF Image Format की तरह ही Lossless Compression तकनीक से युक्त होती हैं मतलब GIF Image Format की तरह ही PNG Image Format में भी इमेज को कंप्रेस करने पर इमेज की साइज तो छोटी हो जाएगी लेकिन उस इमेज की क्वॉलिटी में कोई फर्क नहीं आएगा। 

इसके अलावा GIF इमेज फॉर्मेट की तरह ही Portable Network Graphics (PNG) इमेज फॉर्मेट में भी Transparency होती है। मतलब जैसे JPEG इमेज फॉर्मेट में जब हम कोई इमेज सेव करते हैं तो उसमे इमेज के साथ ही साथ उसका बैकग्राउंड भी सेव हो जाता है यानी JPEG इमेज फॉरमेट में इमेज बैकग्राउंड के साथ सेव होती है।

 लेकिन GIF और PNG इमेज फॉर्मेट में इमेज सेव करने पर उस इमेज का बैकग्राउंड सेव नहीं होता है। इसे ट्रांसप्रिंट इमेज फॉरमेट कहते है। अक्सर logo डिजाइन करने के लिए इसी प्रकार की इमेज फॉरमेट का इस्तेमाल होता है जिससे logo के साथ बैकग्राउंड नही सेव हो। वहीं JPEG इमेज फॉरमेट का इस्तेमाल खास करके बैनर में किया जाता है, और विभिन प्रकार के Picture में किया जाता है।

इन्हें भी देखें :-  PCM Full Form | PCM, PCB, PCMB क्या होता है? जानें PCM, PCB, PCMB के बारे में जरुरी बातें

इसके अलावा Portable Network Graphics (PNG) इमेज फॉर्मेट की फाइल GIF image फाइल से कई ज्यादा बेहतर होती है। और JPEG File से ज़्यादा बड़ी भी होती है। Portable Network Graphics में Gamma Storing भी होता है। अर्थात यह आपको अलग अलग Softwares में अलग अलग तरीके से दिखाई पड़ेगी

Portable Network Graphics (PNG) इमेज फॉर्मेट को 1995 की शुरुआत में विकसित किया गया था चूंकि GIF इमेज फॉर्मेट में केवल 256 रंग होते हैं और GIF इमेज फॉर्मेट के पेटेंट का स्वामित्व एक ही कंपनी के पास था और किसी को भी उसे इस्तेमाल करने के लिए लाइसेंस फीस देनी पड़ती थी।

 GIF की इस सीमा के परिणामस्वरूप PNG इमेज फॉर्मेट की शुरूआत होती है। Portable Network Graphics (PNG) का लाभ यह है कि यह कम-रिज़ॉल्यूशन की इमेजेस प्रोवाइड करता है जो अच्छे लगते हैं और लाइटवेट होते है परिणामस्वरूप जल्दी से लोड होते हैं।

जब आप किसी ऐसी इमेज के साथ काम कर रहे हों जिसे बार-बार एडिट करने की आवश्यकता हो, तो आप JPEG के बजाय PNG फॉर्मेट का उपयोग करने पर भी विचार कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, चूंकि JPEG फॉर्मेट जनरेशन लॉस कहलाती है, इसलिए फ़ाइल को बार-बार एडिट करने और सेव करने के परिणामस्वरूप समय के साथ कम गुणवत्ता वाली इमेज होगी। लेकिन यह PNG के साथ नहीं होता क्योंकि यह Lossless Compress का उपयोग करता है।

खास बातें

  • PNG Image Format को कंम्प्यूटर में 1994 में JPEG और GIF Image Formats के डेवलप होने के बाद लाया गया था | इसी वजह से PNG Image Format में इन दोनों तकनीक कि अनेक विशेषताएं पायी जाती हैं। 
  • जैसे PNG इमेज फॉर्मेट में भी GIF की तरह Lossless Compression तकनीक का उपयोग होता है।
  • इसके साथ ही PNG Images Format JPG की तरह ही 24 -bit कलर्स को सपोर्ट करती है।
  • वैसे PNG को प्रमुख रूप से GIF के विकल्प के रूप में विकसित किया गया था क्योंकि GIF फॉर्मेट को इस्तेमाल करने के लिए लाइसेंस की आवश्यकता होती है।
  • PNG इमेजेज पारदर्शी (Transparent) होती हैं | इसलिए इसका अधिकतर उपयोग Background वाली जगहों पर किया जाता है, जिससे उनका Background Hide नहीं होता। बल्कि अधिकतर Icons PNG फॉर्मेट में होते हैं और इनका साइज़ भी अन्य Image Formats से कम ही होता है।
  • PNG फॉर्मेट में कलर ट्रांसपेरेंट  करने के साथ – साथ Transparency लेवल को भी चेंज किया जा सकता हैं।
  • यह एक ऐसा फॉर्मेट है, जिसमें Image Interlacing आसान और तीव्र गति से मुमकिन है।
  • Gamma Correction की मदद से PNG format में  Images की कलर ब्राइटनेस कम या ज़्यादा आसानी से किया जा सकता है।
  • PNG फॉर्मेट की images True colour अथवा Grey Scale Formats में भी सेव की जा सकती है |
  • हालांकि PNG images GIF images की तरह एनिमेटेड नहीं हो सकतीं। बल्कि इसमें एनीमेशन के लिए एक अलग से .MNG इमेज फॉर्मेट होती है।
  • PNG इमेजेज CMYK कलर सपोर्ट प्रदान नहीं करती हैं
इन्हें भी देखें :-  DPR Full Form in Hindi | DPR का मतलब क्या होता है? जानें DPR के बारे में जरुरी बातें

Portable Network Graphics (PNG) इमेज फॉरमेट के लाभ

  • Lossless Compression : PNG फाइल Format न्यूनतम Compression Loss प्रदान करता है, किसी Image की क्वालिटी किसी भी कम्प्रेशन रेश्यो में नहीं बदली जाती है।
  • Perfect for Editing Images : PNG Image Format किसी इमेज को एडिट करने और Image के Intermediate Versions स्टोर करने के लिए उपयुक्त है, क्योंकि यदि आप Image को दोबारा सेव करते हैं तो भी उसकी क्वालिटी वैसी ही बनी रहती है।
  • Supports a Large Number of Colours : PNG इमेज फॉरमेट विभिन्न कलर्स को समर्थन प्रदान करता है। जैसे कि, PNG-8 (256 colors) और PNG-24 (लगभग 16.7 मिलियन कलर्स)
  • Support for Transparency : यह Transparency के विभिन्न विकल्प देने का काम करता है। एक PNG image में opacity के 256 विकल्प होते हैं, पूर्णतः Opaque से पूर्णतः Transparent तक।
  • PNG format में Layers में काम करना बेहद आसान होता है।
  • Sharp edges and solid colors – टेक्‍स्‍ट, लाइन आर्ट और ग्राफिक्स वाले चित्रों के लिए आदर्श।

Portable Network Graphics (PNG) इमेज फॉर्मेट के नुकसान क्या हैं?

Disadvantages of Portable Network Graphics (PNG) Image Format :

PNG इमेज फॉर्मेट के नुकसान में शामिल हैं –

  • Bigger File Size – बड़ी फ़ाइल साइज – एक बड़े फ़ाइल साइज में डिजिटल इमेजेज को कम्‍प्रेशन करता है।
  • प्रोफेशनल – क्वॉलिटी वाले प्रिंट ग्राफिक्स के लिए आदर्श नहीं है – गैर- RGB कलर स्‍पेस जैसे कि CMYK (cyan, magenta, yellow और black) को सपोर्ट नहीं करता।
  • अधिकांश डिजिटल कैमरों द्वारा उपयोग किए गए EXIF ​​मेटाडेटा को एम्बेड करने का सपोर्ट नहीं करता है।
  • मूल रूप से एनीमेशन का समर्थन नहीं करता है, लेकिन इसके लिए अनऑफिशियल एक्सटेंशन .MNG उपलब्ध हैं।

PNG Full Form in GAS

FAQ About PNG Full Form

 

Q. PNG की फुल फॉर्म क्या होती है?

Ans : PNG की Full Form Portable Network Graphics (पोर्टेबल नेटवर्क ग्राफिक) होता है।
PNG Full Form : Portable Network Graphics
PNG Full Form in Hindi : पोर्टेबल नेटवर्क ग्राफिक 
Portable Network Graphics (PNG) डिजिटल इमेजेस का एक फाइल फॉर्मेट होता है जैसे JPEG, JPG, GIF, TIFF, BMP या RAW आदि डिजिटल इमेजेस की फाइल्स होती हैं उसी तरह Portable Network Graphics (PNG) भी डिजीटल इमेजेस की एक फाइल फॉर्मेट होती है। इन फाइल्स का एक्सटेंशन “.png” होता है।  

Q. PNG इमेज फॉरमेट का इस्तेमाल कहां किया जाता है?

Ans :  PNG इमेज फॉरमेट वेब डिज़ाइनरों में खास तौर पर लोकप्रिय इमेज फॉरमेट होता है क्योंकि यह ट्रांसप्रिंट या सेमी ट्रांसप्रिंट बैकग्राउंड वाले ग्राफ़िक्स को सपोर्ट कर सकता है।

Q. PNG इमेज फॉरमेट को क्यों डेवलप किया गया?

Ans : Portable Network Graphics (PNG) इमेज फॉर्मेट को 1995 की शुरुआत में विकसित किया गया था चूंकि GIF इमेज फॉर्मेट के पेटेंट का स्वामित्व एक ही कंपनी के पास था और किसी को भी उसे इस्तेमाल करने के लिए लाइसेंस फीस देनी पड़ती थी।
 GIF की इस सीमा के परिणामस्वरूप PNG इमेज फॉर्मेट की शुरूआत होती है। PNG इमेज फॉरमेट को प्रमुख रूप से GIF के विकल्प के रूप में विकसित किया गया था क्योंकि GIF फॉर्मेट को इस्तेमाल करने के लिए लाइसेंस की आवश्यकता होती है। 
JPEG और GIF Image Formats के डेवलप होने के बाद लाया गया था | इसी वजह से PNG Image Format में इन दोनों तकनीक कि अनेक विशेषताएं पायी जाती हैं।

इन्हें भी देखें :-  What is MLT Full Form? MLT का Full Form क्या होता है? जानें MLT के बारे में जरूरी बातें…
Q. PNG इमेज फॉरमेट की क्या खूबियां हैं?

Ans : Lossless Compression : PNG फाइल Format न्यूनतम Compression Loss प्रदान करता है, किसी Image की क्वालिटी किसी भी कम्प्रेशन रेश्यो में नहीं बदली जाती है।
Perfect for Editing Images : PNG Image Format किसी इमेज को एडिट करने और Image के Intermediate Versions स्टोर करने के लिए उपयुक्त है, क्योंकि यदि आप Image को दोबारा सेव करते हैं तो भी उसकी क्वालिटी वैसी ही बनी रहती है।
Supports a Large Number of Colours : PNG इमेज फॉरमेट विभिन्न कलर्स को समर्थन प्रदान करता है। जैसे कि, PNG-8 (256 colors) और PNG-24 (लगभग 16.7 मिलियन कलर्स)
Support for Transparency : यह Transparency के विभिन्न विकल्प देने का काम करता है। एक PNG image में opacity के 256 विकल्प होते हैं, पूर्णतः Opaque से पूर्णतः Transparent तक।
PNG format में Layers में काम करना बेहद आसान होता है।
Sharp edges and solid colors – टेक्‍स्‍ट, लाइन आर्ट और ग्राफिक्स वाले चित्रों के लिए आदर्श।

Q . PNG गैस और CNG गैस क्या होते हैं?

Ans : PNG का मतलब होता है Piped Natural Gas वहीं CNG का मतलब होता है Compressed Natural Gas
ये दोनो ही टाइप की गैस हमारे घरों में खाना पकाने के लिए इस्तेमाल होती है इनमे मुख्य फर्क यही है की PNG यानी Piped Natural Gas हमारे घरों तक mild steel (MS) और Polyethylene (PE) पाइपलाइन के माध्यम से आती है वहीं CNG मतलब Compressed Natural Gas हमारे घरों तक सिलेंडर के माध्यम से आती है।

तो दोस्तों यहां इस आर्टिकल में हमे आपको PNG की फुल फॉर्म (PNG Full Form) : Portable Network Graphics के बारे में जानकारी दी है उम्मीद है इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको PNG की Full Form के बारे में पता चल गया होगा और उम्मीद करता हूं कि आर्टिकल आपको पसन्द आया होगा। ऑर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए धन्यवाद! 

इसे शेयर करें

Leave a Comment