BTC Full Form? BTC क्या है? जानें BTC के बारे में जरूरी बातें…

BTC Full Form

दोस्तों क्या आपने कभी BTC शब्द सुना है? या क्या आप जानते हैं की BTC kya hai? या BTC Full Form क्या होती है?

नमस्कार दोस्तों the nitin tech.com पर आप सभी का स्वागत है। क्या आप भी इंटरनेट पर BTC के बारे मे (BTC Full Form) ढूंढ रहे है? यदि हाँ तो आज मैं इस आर्टिकल के जरिए आपको BTC kya hota hai? BTC ka Full Form kya hota hai? के बारे में डिटेल में बताने जा रहा हूँ। इस पोस्ट को पढ़कर आप BTC kya hai? (BTC Full Form) के बारे में जान सकेंगे। 

BTC kya hai? (BTC Full Form)

तो दोस्तों आपको बता दें कि BTC का फुल फॉर्म Basic Training Certificate (बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट) होता है। इसको हिंदी में “साधारण शिक्षण कोर्स” या “बुनियादी शिक्षण पाठ्यक्रम” कहते है।

BTC Full Form : Basic Training Certificate

BTC Full Form in Hindi : बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट (साधारण शिक्षण कोर्स)

BTC Full Form : Basic Traning Certiificate

नोट :- जानकारी के लिए बता दूँ की हाल ही मे सरकार ने BTC कोर्स का नाम बदल कर D.EL.ED कोर्स कर दिया है। BTC और D.EL.ED दोनों एक ही कोर्स है। सरकार ने BTC का नाम बदलकर D.EL.ED कर दिया। इस कोर्स को करने के बाद आप अध्यापक बनने के लिए योग्य हो जाते है।

D.EL.ED का फुल फॉर्म Diploma in Elementary Education होता है।

वहीं हिन्दी मे D.EL.ED का फुल फॉर्म डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजुकेशन होता है।

D.EL.ED Full Form : Diploma in Elementary Education 

D.EL.ED Full Form in Hindi : डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजुकेशन (प्रारंभिक शिक्षा में डिप्लोमा)

D.EL.ED. Full Form

D.EL.ED कोर्स का पूर्व नाम बी.टी.सी (BTC) कोर्स है जिसे अब वर्तमान मे D.EL.ED के नाम से जाना जाता है

Basic Training Certificate (BTC) क्या होता है?

Basic Training Certificate (BTC) एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स है जो सरकार के द्वारा मान्यता प्राप्त सरकारी या प्राइवेट महाविद्यालयों के माध्यम से कराया जाता है। BTC कोर्स द्विवर्षीय पाठ्यक्रम पर आधारित होता है जिसे करने के लिए अभ्यर्थी को कम से कम स्नातक उत्तीर्ण होना अनिवार्य होता है।

कुछ स्टूडेंट्स का Dream होता है कि वह इंजीनियर बने व कुछ स्टूडेंट्स डॉक्टर या वकील बनना चाहते है वहीं कुछ स्टूडेंट्स चाहते हैं कि वह टीचर बने। सरकारी टीचर बनकर वो एक मार्गदर्शक के रूप मे बच्चों का अच्छा भविष्य बनाने मे अपना योगदान देना चाहते हैं।

आपको बता दें सरकारी प्राइमरी स्कूलों मे गवर्मेंट टीचर बनने लिए BTC कोर्स करना आवश्यक होता है। BTC Diploma Course करने बाद ही आप सरकारी टीचर बन सकते है। यह एक सम्माजनक पद होता है, जिसमें अभ्यर्थियों को सम्मान के साथ-साथ अच्छी सैलरी भी मिलती है।

इस कोर्स को कंप्लीट करने के लिए अभ्यर्थी को बहुत ही कठिन परिश्रम करना होता है क्योंकि BTC Diploma मिल जाने के बाद भी आगे दो और स्टेप्स को पूरा करना होता है।

BTC डिप्लोमा कोर्स कंप्लीट करने के बाद अभ्यर्थी कुछ स्टेप्स को फॉलो करके सरकारी प्राइमरी स्कूलों मे गवर्मेंट टीचर बन सकते है जिसमे छोटे-छोटे बच्चों को पढ़ाना होता है। छोटे-छोटे बच्चों को कैसे पढ़ाया जाता है यही इस कोर्स मे बताया जाता है। इस कोर्स में आपको छोटे बच्चो के साथ कैसा व्यवहार करे, उन्हें कैसे पढ़ाये आदि चीजों की ट्रेनिंग दी जाती है।

BTC मे Admission लेने के लिए अभ्यर्थी को सरकार के द्वारा वेकेंसी आने का  करना होता है। वेकेंसी आते ही अभ्यर्थी BTC Course के लिए अप्लाई कर सकते है। BTC मे Admission लेते ही अभ्यर्थी का प्राथमिक विद्यालय मे सरकारी टीचर बनाने की राह पर पहला कदम होता है।

इन्हें भी देखें :-  What is DCP Full Form? DCP का Full Form क्या होता है? जानें DCP के बारे में जरूरी बातें…

याद रहे BTC कोर्स करने के बाद आप सीधे अध्यापक नहीं बनते, अध्यापक बनने के लिए आपको TET या CTET परीक्षा को उत्तीर्ण करना होगा, उसके बाद मेरिट के आधार पर आपको सरकारी स्कूल में अध्यापक के रूप में नियुक्त किया जाता है। 

जो अभ्यर्थी BTC मे सफलता प्राप्त कर लेते है उनको आगे कुछ स्टेप जैसे कि प्रदेश मे चल रहे TET (Teacher Eligibility Test) या CTET (Central Teacher Eligibility Test) का Exam पास करने के बाद मेरिट के अनुसार गवर्मेंट टीचर के लिए नियुक्त किया जाता है।

उत्तर प्रदेश मे TET या CTET Exam पास करने के बाद Super TET Exam भी पास करना होता है।

BTC का कोर्स कौन कर सकता है?

जैसा कि हमने बताया कि BTC डिप्लोमा कोर्स दो-वर्षीय पाठ्यक्रम पर आधारित होता है। BTC कोर्स मे एड्मिशन पाने के लिए अभ्यर्थी को 10+2 के बाद स्नातक होना आवश्यक होता है यहाँ पर आप किसी कि स्ट्रीम के स्टूडेंट रहे हों मेरा मतलब है चाहे आप Science स्ट्रीम के स्टूडेंट रहे हो या Art के या अन्य। इन सभी ही स्ट्रीम के स्टूडेंट्स BTC कोर्स मे एड्मिशन लेने के लिए पूर्ण योग्य होंगे।

BTC का कोर्स करने के बाद क्या स्कोप है?

अब बात आती है कि BTC का कोर्स तो हमने कर लिया है अब आगे का क्या स्कोप है? तो दोस्तों आपको ऊपर बता ही दिया है की BTC का कोर्स करने के बाद आप प्राइमरी स्कूल मे सरकारी जॉब पा सकते है।

BTC कोर्स पूर्ण होने के बाद आप को TET यानी Teacher Eligibility Test या CTET यानी Central Teacher Eligibility Test परीक्षा को पास करना होता है। यहां आपको बता दें कि TET एग्जाम राज्य सरकार के द्वारा करवाया जाता है वहीं CTET एग्जाम केंद्र सरकार के द्वारा करवाया जाता है। आप चाहे तो केंद्र और राज्य सरकार के दोनों ही के टेस्ट मे भाग ले सकते है।

वहीं अगर आप उत्तर प्रदेश से हैं तो UPTET (Uttar Pradesh Teacher Eligibility Test) या CTET (Central Teacher Eligibility Test) पास करने के बाद आपको उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा निकाली गयी वेकेंसी मे Super TET Exam को भी पास करना जरूरी होता है उसी के बाद ही आप मेरिट के अनुसार प्राइमरी के टीचर बन सकते है।

BTC (D.EL.ED) कोर्स की फीस 

अगर बात करे इस कोर्स के फीस की तो, हर कॉलेज में इस कोर्स की फीस अलग अलग हो सकती हैं। अगर आप किसी सरकारी कॉलेज से यह कोर्स करते है तो आपको अनुमानित 10 हजार रूपए तक फीस देनी होगी।

वहीं प्राइवेट कॉलेज में यह फीस 45 हजार रूपए तक हो सकती है। अगर आपको BTC (D.EL.ED) के कोर्स की फीस के विषय में सही जानकारी चाहिए तो वो आपको कोर्स से सम्बन्धित कॉलेज से संपर्क करना होगा।

मित्रों यहाँ पर हमने बीटीसी से संबंधित जानकारी जैसे कि BTC Full Form, D.EL.ED Full Form, BTC / D.EL.ED Course क्या है ? और BTC Full Form in Hindi दी गयी है। लेकिन दोस्तों इस  BTC Term का इसके अलावा भी एक और भी फुल फॉर्म होती है जिसके बारे में यहां नीचे जानकारी दी गई है।

BTC Full Form in Internet Field 

तो दोस्तों आपको बता दे कि इंटरनेट या ऑनलाइन की दुनिया में यदि कहीं आप BTC टर्म को देखते हो तो वहां इसका मतलब होता है Bitcoin (बिटकॉइन)। जी हां दोस्तों इंटरनेट और ऑनलाइन दुनिया में BTC का Full Form Bitcoin (बिटकॉइन) होता है।

इन्हें भी देखें :-  What is CS Full Form? CS का Full Form क्या होता है? जानें CS के बारे में जरूरी बातें…

BTC Full Form in Internet / online Field : Bitcoin

इंटरनेट और ऑनलाइन दुनिया में BTC का Full Form :  Bitcoin (बिटकॉइन) 

BTC Full Form in Internet /Online

Bitcoin (बिटकॉइन) क्या होता है?

बिटकॉइन एक ऑनलाइन वर्चुअल करेंसी है। यह एक ऐसी करेंसी है जिसे कोई नहीं देख सकता यह वर्चुअल रूप में पाई जाती है। इसे इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में सिक्योर करके रखते हैं। पिछले कुछ वर्षों में इसका चलन काफी बढ़ गया है। आप इसे किसी अन्य करेंसी की तरह खरीद सकते हैं जैसे Dollar, Rupee, Krona, Dinar आदि। बिटकॉइन को बिटकॉइन वॉलेट में सेव करते हैं।

बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी होती है, यानी इसका कोई फिजिकल अस्तित्व नहीं है। यह एक कंप्यूटर एल्गोरिथम पर बनी करेंसी है, ये सिर्फ इंटरनेट पर मौजूद हैI इसे कोई अथॉरिटी नियंत्रण नहीं कर सकती है, इस पर किसी भी देश के नियमों (जैसे डेमोनेटिज़ेशन) का भी कोई असर नहीं होता हैं।

Bitcoin (बिटकॉइन) के बारे में और जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारे इस आर्टिकल  को पढ़ सकते हैं।

बिटकॉइन क्या है ? बिटकॉइन कैसे काम करता है ? what is bitcoin? how bitcoin work?

How to Buy Bitcoin in India? | Bitcoin kaise kharide?

उम्मीद करते है इस लेख को पढ़कर आपको BTC क्या  होता है? और BTC की फुल फॉर्म (BTC Full Form) से जुडी सम्पूर्ण जानकारी मिल गयी होगी। इस जानकारी से संबंधित यदि आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमे नीचे कमेन्ट बॉक्स मे बता सकते है। हम जल्द से जल्द सवाल का जवाब देने की कोशिश करेंगे। इस पोस्ट को आप अपने बीटीसी करने के इच्छुक मित्रो के साथ जरूर शेयर करें। 

FAQ About BTC Full Form 

Q. BTC क्या होता है?

Ans : Basic Training Certificate (BTC) एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स है जो सरकारी प्राइमरी स्कूलों मे गवर्मेंट टीचर बनने लिए आवश्यक होता है।
BTC सरकार के द्वारा मान्यता प्राप्त सरकारी या प्राइवेट कॉलेज के द्वारा कराया जाता है। सरकारी प्राइमरी स्कूलों मे गवर्मेंट टीचर बनने लिए BTC कोर्स करना आवश्यक होता है। BTC Diploma Course करने बाद ही आप सरकारी टीचर बन सकते है। BTC कोर्स द्विवर्षीय पाठ्यक्रम पर आधारित होता है जिसे करने के लिए अभ्यर्थी को कम से कम ग्रेजुएट पास होना अनिवार्य होता है।

Q. BTC कोर्स का दूसरा नाम क्या है?

Ans : 2017 में BTC कोर्स का नाम बदल कर D. EL. ED कर दिया गया है।

Q. BTC कोर्स क्या है डिप्लोमा या डिग्री?

Ans : BTC एक दो साल का डिप्लोमा कोर्स होता है।

Q. BTC कोर्स करने के लिए आयु सीमा क्या निर्धारित की गई है?

Ans :  BTC कोर्स करने के लिए उम्मीदवारों की आयु 18 से 30 वर्ष के बीच होनी चाहिए। सरकार के नियमों और विनियमों के अनुसार अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / अन्य पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों के लिए ऊपरी आयु सीमा में छूट है। तथा इसके लिए शैक्षिक योग्यता किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या कॉलेज से किसी भी स्ट्रीम में  कम से कम 50% अंकों के साथ स्नातक निर्धारित की गई है।

Q . क्या इंटर के बाद BTC कर सकते हैं?

Ans : नही इंटर के तुरंत बाद BTC नहीं की जा सकती है! BTC करने के लिए पहले आपका ग्रेजुएशन पूरा होना चाहिए तभी आप BTC कर सकते हैं!

इन्हें भी देखें :-  What is CDS Full Form? CDS का Full Form क्या होता है? जानें CDS के बारे में जरूरी बातें…
Q . BTC करने के लिए ग्रेजुएशन में कितने प्रतिशत होने चाहिए?

Ans :  BTC करने के लिए कैंडिडेट के पास B.A., Bsc., B.Com, B C.A., B.B.A., B.Tec जैसे किसी भी स्ट्रीम में कम से कम 50 प्रतिशत अंक के साथ बैचलर डिग्री होनी चाहिए। SC/ST/OBC वर्ग के उम्मीदवारों के लिए इनमे 5 प्रतिशत अंक की छूट दी गई है।

Q. BTC कोर्स करने से क्या फायदे हैं?

Ans : इस कोर्स को करने के बाद आप प्राइमरी स्कूल तक के बच्चों को पढ़ाने योग्य माने जाते हैं इस कोर्स मे आपको सिखाया जाता हैं की प्राइमरी स्कूल के बच्चों को कैसे पढ़ाते हैं और इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप चाहो तो प्राइमरी स्कूलों में शिक्षक की भर्ती आने पर उसमे अप्लाई भी कर सकते हैं जिससे की आपको सरकारी नौकरी प्राप्त हो सके।

Q. इंटरनेट की फील्ड में BTC क्या है

Ans : इंटरनेट या ऑनलाइन की दुनिया में यदि कहीं आप BTC टर्म को देखते हो तो वहां इसका मतलब होता है Bitcoin (बिटकॉइन)। जी हां दोस्तों इंटरनेट और ऑनलाइन दुनिया में BTC का Full Form Bitcoin (बिटकॉइन) होता है।
बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी होती है, यानी इसका कोई फिजिकल अस्तित्व नहीं है। यह एक कंप्यूटर एल्गोरिथम पर बनी करेंसी है, ये सिर्फ इंटरनेट पर मौजूद हैI इसे कोई अथॉरिटी नियंत्रण नहीं कर सकती है, इस पर किसी भी देश के नियमों (जैसे डेमोनेटिज़ेशन) का भी कोई असर नहीं होता हैं।
बिटकॉइन एक ऑनलाइन वर्चुअल करेंसी है। यह एक ऐसी करेंसी है जिसे कोई नहीं देख सकता यह वर्चुअल रूप में पाई जाती है। इसे इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में सिक्योर करके रखते हैं। पिछले कुछ वर्षों में इसका चलन काफी बढ़ गया है।

 मिस्टर नितिन कुमार the nitin tech.com के Founder और Author है। इन्हें हमेशा से टेक्नोलॉजी से सम्बंधित जानकारी लेना और उसे लोगो के साथ शेयर करना पसंद है। अगर आपको इनके द्वारा शेयर की गई जानकारी अच्छी लगती है तो आप इन्हे Social Media पर फॉलो कर सकते है। Thank You!

इसे शेयर करें

Leave a Comment