What is BCA Full Form? BCA का Full Form क्या होता है? जानें BCA के बारे में जरूरी बातें…

BCA Full Form

दोस्तों क्या आपने कभी BCA शब्द सुना है? या क्या आप जानते हैं की BCA kya hai? BCA की फुल फॉर्म (BCA Full Form) क्या होती है?

नमस्कार दोस्तों the nitin tech.com पर आप सभी का स्वागत है। क्या आप भी इंटरनेट पर BCA के बारे मे (BCA Full Form) ढूंढ रहे है? यदि हाँ तो आज मैं इस आर्टिकल के जरिए आपको BCA kya hota hai? BCA ka Full Form kya hota hai? के बारे में डिटेल में बताने जा रहा हूँ। इस पोस्ट को पढ़कर आप BCA kya hai? (BCA Full Form) के बारे में जान सकेंगे।

BCA kya hai? (BCA Full Form)

तो दोस्तों आपको बता दें कि BCA की Full Form Bachelor of Computer Application (बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लिकेशन) होता है।

B  –  Bachelor of

C  –   Computer

A  –  Application

BCA Full Form : Bachelor of Computer Application

BCA Full Form in Hindi : बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लिकेशन (हिंदी में अर्थ “कंप्यूटर एप्लिकेशन में स्नातक”)

BCA Full Form -Bachelor of Computer Application

Bachelor of Computer Application (BCA) क्या होता है? What is Bachelor of Computer Application (BCA)

 BCA यानी Bachelor of Computer Application एक प्रोफेशनल डिग्री कोर्स है। यह 3 साल का अंडर ग्रैजुएट डिग्री कोर्स है। इसमे 6 सेमेस्टर होते हैं। इसमें आपको Computer Application, Computer Science & Software के बारे में पढ़ाया जाता है। BCA कोर्स उन स्टूडेंट्स के लिए काफी अच्छा है, जो आईटी सेक्टर या कंप्यूटर साइंस में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं। BCA course के अंतर्गत आपको डाटाबेस, डेटा स्ट्रक्चर, नेटवर्किंग, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे C, C++, जावा आदि की जानकारी दी जाती है।

Bachelor of Computer Application / BCA करने के बाद आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन में बैचलर डिग्री प्राप्त हो जाती है।

तो दोस्तो ये तो थी BCA Full Form अब आगे हम इसके बारे में और अधिक जानेंगे।

BCA कोर्स मे एडमिशन लेने के लिए योग्यता

  • BCA कोर्स मे एडमिशन लेने के लिए आपको सबसे पहले 12वीं क्लास अच्छे अंको से पास करनी होगी। 
  • आप किसी भी स्ट्रीम से 12वीं क्लास कर सकते हैं। हालांकि कुछ कॉलेज ऐसे हैं जहां BCA कोर्स में एडमिशन लेने के लिए साइंस, मैथ और कंप्यूटर साइंस सब्जेक्ट होना जरूरी होता है।
  • BCA कोर्स मे एडमिशन लेने के लिए आपके 12वीं क्लास में कम से कम 55% अंक होने चाहिए तभी जाकर आपको एक अच्छे कॉलेज में एडमिशन मिलेगा।
  • किसी अच्छे और प्रतिष्ठित कॉलेज से BCA कोर्स करने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम पास करना होगा जो कि हर कॉलेज स्वयं आयोजित करवाता है।

Bachelor of Computer Application / BCA कोर्स की फीस 

आमतौर पर BCA कोर्स की फीस 1 लाख से लेकर 2 लाख के बीच होती है। जहां प्राइवेट कॉलेज में ज्यादा फीस होती है जोकि 6 लाख तक भी हो सकती है, वही गवर्नमेंट कॉलेज में कम फीस होती है जहां से आप 40 हजार रुपए में ही BCA कोर्स कर सकते हैं।

BCA कोर्स में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

BCA कोर्स में कुल 6 सेमेस्टर होते हैं। हर एक सेमेस्टर में अलग-अलग सब्जेक्ट पढ़ाए जाते हैं। BCA कोर्स में आपको कंप्यूटर के बेसिक, कंप्यूटरनेटवर्किंग, वेबसाइट डेवलपमेंट, विभिन्न प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे JAVA, C++, Python  इत्यादि के बारे में पढ़ाया जाता है।

BCA कोर्स के सब्जेक्ट्स / BCA Course Subjects 

BCA Course Subjects 1st Year / 1st and 2nd Semester

BCA कोर्स के पहले और दूसरे सेमेस्टर में आपको स्टैटिक्स, मैथमेटिक्स, ऑपरेटिंग सिस्टम, कम्यूटेटिव इंग्लिश जैसे सब्जेक्ट्स पढ़ाए जाते हैं। जिसके बारे में थोड़ी बहुत जानकारी आप 12वीं कक्षा से पढ़ कर आते हैं।

BCA कोर्स Semester 1 के सब्जेक्ट्स 

  • Computer Fundamental and Office Automation
  • Business Communication
  • Principles Of Management
  • Programming Principles and Algorithms
  • Computer Laboratory and Practical Work(OA+PPA)
  • Business Accounting

BCA कोर्स Semester 2 के सब्जेक्ट्स 

  • Elements of Statistics
  • Cost Accounting
  • Computer Laboratory and Practical work (C.P + DBMS)
  • C Programming
  • Organizational Behavior
  • File Structure and Database Concepts

BCA Course Subjects 2nd Year / 3rd and 4th Semester  

BCA कोर्स के तीसरे और चौथे सेमेस्टर में आपको अलजेब्रा, फाइनेंशियल अकाउंटिंग, फाइनेंशियल मैनेजमेंट जो कि आप 12वीं कक्षा से पढ़ कर आते हैं उसे एडवांस लेवल पर पढ़ाया जाता है। इसके अलावा डेटाबेस मैनेजमेंट, प्रोग्रामिंग इन जावा, कंप्यूटर नेटवर्क कुछ ऐसे विषय हैं जोकि आप पहली बार पढ़ते हैं।

इन्हें भी देखें :-  What is CMS Full Form? CMS का Full Form क्या होता है? जानें CMS के बारे में जरूरी बातें…

BCA कोर्स Semester 3 के सब्जेक्ट्स

  • RDBMS
  • A computer Laboratory and Practical Work (D.s + RDBMS)
  • Software Engineering
  • Numerical Method
  • Data Structure using C
  • Management Accounting

BCA कोर्स Semester 4 के सब्जेक्ट्स

  • Visual Basic
  • Inventory Management(SAD)
  • Object-Oriented Programming using c++
  • Human Resource Management
  • Computer Laboratory and Practical work (VB+ C++)
  • Networking

BCA Course Subjects 3rd Year / 5th and 6th Semester

BCA कोर्स के पांचवें और छठे सेमेस्टर में आपको ग्राफिक और एनिमेशन, क्लाउड कंप्यूटिंग, मल्टीमीडिया एप्लीकेशन, पाइथन प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे विषय पढ़ाए जाते है।

BCA कोर्स Semester 5 के सब्जेक्ट्स

  • Project Work (VB)
  • Principles of Marketing
  • NET Framework
  • Computer Laboratory & Practical Work(NET + Core Java)
  • Internet Programming and Cyber Law
  • Core Java

BCA कोर्स Semester 6 के सब्जेक्ट्स

  • Multimedia Systems
  • Advance Java
  • E-Commerce
  • Computer Laboratory & Practical Work(Multimedia + Advanced Java)
  • Introduction to System Pro & Operating SysteProject Work( Banking & Finance, Cost Analysis, Financial Analysis, EDP, Payroll, ERP)

इसमें हर सेमेस्टर के बाद आपको प्रोजेक्ट भी सबमिट करने होते हैं जिसके अंक आगे आपके फाइनल मार्क्स में जुड़ जाते हैं।

BCA के बाद क्या करें? BCA ke Baad Kya Kare?

BCA कोर्स करने के बाद आप चाहें तो  सीधा नौकरी कर सकते हैं, लेकिन अगर आप उच्च शिक्षा के लिए जाना चाहते हैं तब आप बहुत सारी फील्ड में अलग-अलग कोर्स कर सकते हैं।

BCA के बाद टॉप कोर्स  

Bachelor of Computer Application (BCA) कोर्स छात्रों को इन्फॉर्मेशन एंड टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में करियर के कई विकल्प उपलब्ध करता है। इसके बाद इस डिग्री का सही लाभ उठाने के लिए जरूरी है कि छात्र पोस्ट ग्रेजुएट लेवल पर सही स्पेशलाइजेशन का चुनाव करें। BCA कोर्स करने के बाद आपके पास कई पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स चुनने का ऑप्शन होता है। नीचे BCA कोर्स करने के बाद करे जाने वाले लोकप्रिय कोर्सेज लिस्ट दी गई है।

BCA के बाद कहां बनाएं करियर / Carrier Option After BCA

BCA कोर्स को करने के बाद स्टूडेंट्स को डेटा स्ट्रक्चर, जावा, नेटवर्किंग, डेटाबेस, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे विषयों का अच्छे से ज्ञान हो जाता है। BCA कोर्स करने के बाद आप निम्नलिखित फील्ड में कैरियर बना सकते हैं : 

  • डेटा एनालिस्ट
  • डेटा साइंटिस्ट
  • डिजिटल मार्केटर
  • साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट
  • इन्फॉर्मेशन सिक्योरिटी मैनेजमेंट
  • पेनिट्रेशन टेस्टर

BCA के बाद सरकारी नौकरी / Government jobs After BCA 

यदि आप Sarkari Naukri करना चाहते हैं तो BCA कोर्स करने के बाद आप आईटी एक्सपर्ट के तौर पर इंडियन आर्मी, नेवी, पुलिस, एयरफोर्स, बैंकिंग सेक्टर, एसएससी (SSC Jobs), रेलवे, एजुकेशन आदि सेक्टर में काम कर सकते हैं।

BCA कोर्स करने के बाद आपको स्नातक की डिग्री प्राप्त होगी जिससे आप राज्य सरकार और केंद्र सरकार की कई सारी jobs के लिए एप्लाई कर सकते हैं। BCA कोर्स करने के बाद गवर्नमेंट जॉब करने के लिए आपको सरकार द्वारा आयोजित पेपर को पास करना होगा जैसे SSC, UPSC इत्यादि। यह नीचे हमने कुछ Government jobs की जानकारी दी है जिन्हे आप BCA कोर्स कंप्लीट करने के बाद कर सकते हैं :- 

UPSC / संघ लोक सेवा आयोग

UPSC / संघ लोक सेवा आयोग

UPSC यानी Union Public Services Commission होता है। UPSC : CBI, Navi,  NDA, CDS, Telecom, Collector इत्यादि सरकारी जॉब्स के लिए रिक्रूटमेंट करता है। इनके लिए योग्यता ग्रेजुएशन होती है और इसमें अच्छी सैलरी होती है।

SSC – CGL / कंबाइंड ग्रैजुएट लेवल एग्जामिनेशन

SSC

इसके अंदर Inspector in Income Tax department, Sub-Inspector in CBI, Ministry of Railways, Ministry of External Affairs, IB जैसी जॉब्स के लिए रिक्रूटमेंट होती है। इसके लिए भी योग्यता Graduation होती है।

SSC – CHSL

अब बात करते है SSC Combined Higher Secondary Level एग्जाम की तो इसमें Lower Division Clerk, Upper Division Clerk, Data Entry Operator जैसे पद आते है। यह भी SSC के under आता है ।

SSC – CPO / सेंट्रल पुलिस ऑर्गेनाइजेशन

SSC-CPO

इसमें Sub-inspector in SSB, Sub-inspector in CRPF, Sub-inspector in ITBP, Sub-inspector in BSF जैसी पोस्ट की रिक्रूटमेंट की जाती है। यह भी SSC के अंडर आता है।

इसके अलावा आप IBPS PO, IBPS Clerk, SBI PO, SBI Clerk, Railways,Defense Sector,Teaching Jobs, FCI, PSU, SSC-CHSL, CDS / सीडीएस परीक्षा, इसके बाद CDS (Combined Defense Service), Indian Post / भारतीय डाक विभाग, LIC, RBI Officer / आरबीआई अधिकारी जॉब आदि अनेकों एग्जाम देकर भी सरकारी नौकरी पा सकते हैं।

BCA कोर्स के बाद प्राइवेट जॉब के ऑप्शन 

BCA कोर्स करने के बाद आप आसानी से प्राइवेट कंपनी में सॉफ्टवेयर डेवलपर, टेक्निकल असिस्टेंट, सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर, प्रोग्रामर के पद पर नौकरी पा सकते हैं। HCL, HP, Infosys, TCS, Capgemini, Cognizant, Flipkart, Amazon यह कुछ प्रमुख कंपनियां हैं जो BCA कैंडिडेट की भर्ती करती हैं।

यहां आपको यह बता दे की जैसे ही आपकी BCA की डिग्री पूरी हो जाती है तो आप कोशिश कीजिए कि आप कंप्यूटर फील्ड या किसी आईटी कंपनी में इंटर्नशिप के लिए अप्लाई करें। इससे आपकी प्रोफाइल ओर मजबूत बनती है जिससे आगे चलकर आपको किसी बड़ी कंपनी में अच्छी नौकरी मिल सकती है।

BCA के बाद सैलरी / Salery after BCA

BCA कोर्स करने के बाद आपकी शुरुआती सैलरी 2 लाख से लेकर 8 लाख प्रतिवर्ष के बीच हो सकती है जो कि 10 साल के एक्सपीरियंस के बाद 20 लाख प्रतिवर्ष तक हो सकती है।

इन्हें भी देखें :-  What is RTA Full Form | RTA का मतलब क्या होता है? जानें RTA के बारे में जरुरी बातें

अगर आपकी नौकरी HP, TCS, Infosys, HCL जैसी बड़ी कंपनियों में लगती है तो यह शुरुआत में 4 लाख से लेकर 12 लाख प्रतिवर्ष तक हो सकती है।

अगर आप BCA कोर्स करने के बाद गवर्नमेंट जॉब के लिए ट्राई करते हैं तब जॉब लगने के बाद आपकी सैलरी शुरुआत में 40 हजार प्रतिमाह हो सकती है जिसके साथ साथ आपको सरकारी भत्ते और अन्य सुविधाएं भी मिलती है और समय के साथ बढ़कर यह 80 हजार प्रतिमाह तक हो सकती है।

Business :  जी हाँ आप BCA करने के बाद अपना व्यापर भी शुरू कर सकते हैं जैसे कंप्यूटर सेंटर या कंप्यूटर पार्ट्स की शॉप खोल सकते हैं, ऑनलाइन डाटा एंट्री, जॉब वर्क कर सकते हैं, कियोस्कक बैंकिंग शुरू कर सकते हैं आदि। ऐसे कई तरह के बिजनेस हैं जो आप BCA कोर्स करने के बाद शुरू कर सकते हैं बस आपको इसके लिए थोड़े से अनुभव की जरुरत होगी।

बी.सी.ए. (BCA) कोर्स करने के फायदे

BCA कोर्स करने से आपको निम्नलिखित फायदे हैं :-

  • BCA कोर्स करने के बाद आपको कंप्यूटर फील्ड में एक स्नातक डिग्री मिल जाती हैं।
  • आसानी से जॉब मिल जाती हैं।
  • कंप्यूटर प्रोग्रामिंग का ज्ञान होने के कारण आप खुद सॉफ्टवेर, वेबसाइट, एप आदि बना सकते हैं।
  • उच्च शिक्षा जैसे MCA, MBA कर सकते हैं।
  • BCA करने के बाद अच्छी सैलरी या पैकेज मिल जाता हैं।

BCA कोर्स की फीस

अब अगर बात करें BCA कोर्स के फीस की तो अलग-अलग एजुकेशनल इंस्टीट्यूट में इसकी फीस अलग-अलग निर्धारित की गई होती है।

दूसरे किसी भी Course की तरह ही इसमें भी Government Colleges में BCA Course की Fees काफी Affordable होती है, जिससे कि कोई विद्यार्थी आसानी से इसकी पढ़ाई कर सकें।

सरकारी कॉलेज के बाद Private College आते हैं जिनकी फीस सरकारी कॉलेज की तुलना में काफी ज्यादा होती है। इसीलिए ज्यादातर विद्यार्थी BCA कोर्स करने के लिए एक सरकारी कॉलेज में ही दाखिला लेना चाहते हैं।

अब हर सरकारी कॉलेज में भी फीस अलग अलग हो सकती है, Universities अपने स्तर से इसका निर्धारण करती है, और यही बात प्राइवेट कॉलेज के लिए भी है।

BCA कोर्स के औसतन फीस की बात की जाए तो इस कोर्स की फीस 15-20 हज़ार से लेकर 2,00,000 रुपए तक भी जा सकती है।

अच्छे सरकारी कॉलेज से लेकर अच्छे प्राइवेट कॉलेज तक की BCA की फीस इतनी तक हो सकती है।

Fee की सही जानकारी के लिए सबसे अच्छा होता है कि विद्यार्थी जिस संस्थान में दाखिला लेना चाहते हैं, उसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर या in person कॉलेज में जाकर फीस की सही जानकारी ले लें।

BCA Course में एडमिशन कैसे लें 

अच्छे सरकारी कॉलेज में दाखिले के लिए यूनिवर्सिटी द्वारा एंट्रेंस एग्जाम आयोजित की जाती है जिसे पास करके उम्मीदवार BCA कोर्स के लिए एक अच्छे सरकारी कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं।

इसके लिए एग्जाम आमतौर पर मई और जून के महीने में आयोजित किया जाता है। इसके अंतर्गत न्यूमेरिकल एबिलिटी और कंप्यूटर संबंधित ज्ञान की परीक्षा ली जाती है। यह सारे टेस्ट 12th लेवल को ध्यान में रखकर लिए जाते है।

BCA कोर्स के लिए प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन 

यदि आपको किसी सरकारी कॉलेज में BCA कोर्स में एडमिशन नहीं मिल पाता तो आप प्राइवेट कॉलेज से भी यह कोर्स कर सकते हैं, हालांकि इसके लिए आपको फीस ज्यादा देनी होती है।

अगर आप इस कोर्स को प्राइवेट कॉलेज करते है तो उसमे आपकी फीस लगभग 50 हजार से लेकर 1.5-2 लाख तक हो सकती है। आमतौर पर प्राइवेट कॉलेज में इस कोर्स में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा नहीं देनी होती है, आपके 12वीं में आए अंको के आधार पर ही आपको एडमिशन दे दिया जाता है।

ज्यादातर प्राईवेट कालेज मेरिट बेसिस पर एडमिशन देते हैं, हालांकि देश के कुछ नामी प्राइवेट शिक्षण संस्थान अपनी तरफ से एंट्रेंस एग्जाम भी ले सकते हैं।

BCA कोर्स में आपको 12वीं के बाद डायरेक्ट और एंट्रेंस एग्जाम दोनो तरह से एडमिशन मिल सकता है। अगर आप चाहते हैं कि आपको इंडिया के बेस्ट कॉलजों से BCA Course करना है तो आपको एंट्रेंस एग्जाम को पास करके इंडिया के मोस्ट पॉपुलर यूनिवर्सिटीज और कॉलजों में एडमिशन मिल सकता है।

गवर्नमेंट कॉलजों में तो आपको डायरेक्ट एडमिशन नही मिलेगा, इसके लिए आपको प्रवेश परीक्षा पास करनी होगी। हालांकि कुछ गवर्नमेंट कॉलेज में भी डायरेक्ट BCA में एडमिशन मिल जाता है,

FAQ About BCA Full Form

Q. BCA की फुल फॉर्म क्या होती है? What is BCA Full Form?

Ans : BCA एक 3 साल का ग्रेजुएशन कोर्स है। इसकी फुल फॉर्म होती है Bachelor of Computer Application (बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लिकेशन)
BCA Full Form : Bachelor of Computer Application (बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लिकेशन)
इस कोर्स में स्टूडेंट कंप्यूटर और आईटी से रिलेटेड गहन नॉलेज प्राप्त करते हैं। इस कोर्स के दौरान स्टूडेंट कंप्यूटर से रिलेटेड सभी इंपॉर्टेंट एरियाज के बारे में पढ़ते हैं जैसे कि Basic  Computer Programming, Basic Software Development, Computer Hardware & Networking आदि।
जो स्टूडेंट कंप्यूटर के फील्ड में नॉलेज प्राप्त करना और आगे अपना कैरियर बनाना चाहते हैं उनके लिए यह बेहतरीन कोर्स है।
BCA कोर्स, कंप्यूटर साइंस के बाद सबसे अच्छा कंप्यूटर से रिलेटेड कोर्स है जो कंप्यूटर और आईटी सेक्टर का अच्छा नॉलेज और अच्छी नौकरी की गारंटी देता है।

इन्हें भी देखें :-  BTC Full Form? BTC क्या है? जानें BTC के बारे में जरूरी बातें…
Q. BCA का कोर्स कितने साल का होता है?

Ans : BCA कोर्स 3 साल का अंडरग्रैजुएट डिग्री कोर्स होता है जो आप 12th क्लास के बाद कर सकते हैं।

Q. BCA कोर्स की फीस कितनी होती है?

Ans :  आमतौर पर BCA की फीस 1 लाख से लेकर 2 लाख के बीच होती है। जहां प्राइवेट कॉलेज में ज्यादा फीस होती है जोकि 6 लाख तक भी हो सकती है, वही गवर्नमेंट कॉलेज में कम फीस होती है जहां आप सिर्फ 40 हजार में ही BCA कोर्स कर सकते हैं।

Q. BCA में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

Ans : BCA कोर्स 3 साल का होता है जिसमे कुल 6 सेमेस्टर होते  हैं। प्रत्येक सेमेस्टर 6 महीने का होता है और हर एक सेमेस्टर में कुल 6 सब्जेक्ट पढ़ाए जाते हैं इस तरह BCA कोर्स में कुल 36 सब्जेक्ट पढ़ाए जाते हैं।

Q. BCA करने के बाद कौन सी जॉब मिल सकती है?

Ans : BCA कोर्स को करने के बाद स्टूडेंट्स को डेटा स्ट्रक्चर, जावा, नेटवर्किंग, डेटाबेस, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे विषयों का बेहतरीन ज्ञान हो जाता है। इस कोर्स को करने के बाद स्टूडेंट्स डेटा एनालिस्ट, डेटा साइंटिस्ट, डिजिटल मार्केटर, साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट, इन्फॉर्मेशन सिक्योरिटी मैनेजमेंट, पेनिट्रेशन टेस्टर इत्यादि पोस्ट की जॉब मिल सकती है।
यदि स्टूडेंट BCA करने के बाद सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो आईटी एक्सपर्ट के तौर पर इंडियन आर्मी, नेवी, पुलिस, एयरफोर्स, बैंकिंग सेक्टर, एसएससी (SSC Jobs), रेलवे, एजुकेशन सेक्टर आदि में काम कर सकते है।

Q. BCA करने के बाद कितनी सैलरी मिलती है?

Ans : बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लिकेशन (BCA) का कोर्स करने के बाद स्टूडेंट्स को जॉब की शुरुआत में लगभग 12 से 15 हजार रुपये की सैलरी मिलती है, लेकिन अनुभव बढ़ने के साथ सैलरी क़रीब 50 से 60 हजार तक भी हो सकती है। इतना ही नहीं, मल्टीनेशनल कंपनी (MNC Jobs) में जॉब करने वालों की सैलरी लाखों रुपए में होती है।

Q. BCA करने से क्या फायदा है?

Ans : बी.सी.ए. (BCA) करने के फायदे :-
आपको कंप्यूटर फील्ड में एक स्नातक डिग्री मिल जाती है।
आसानी से जॉब मिल जाती है।
कंप्यूटर प्रोग्रामिंग का ज्ञान होने के कारण आप खुद सॉफ्टवेर, वेबसाइट, एप आदि बना सकते हैं।
उच्च शिक्षा जैसे MCA, MBA कर सकते हैं।
BCA करने के बाद अच्छी सैलरी या पैकेज मिल जाता है।

Q. क्या BCA भविष्य के लिए अच्छा है?

Ans : अगर आपका कंप्यूटर टेक्नोलॉजी और आईटी फील्ड में इंट्रेस्ट है और आप इसी फील्ड में कैरियर बनाना चाहते हैं तो आपके लिए BCA कोर्स करना अच्छा ऑप्शन है। BCA कोर्स करने के बाद आपको कंप्यूटर टेक्नोलॉजी और आईटी फील्ड में अच्छे कैरियर ऑप्शन या इसी फील्ड में उच्च शिक्षा के अच्छे ऑप्शन मिल जाते हैं।

Q. क्या हम बीसीए के बाद सरकारी नौकरी कर सकते हैं?

Ans : हां यदि BCA कोर्स करने के बाद आप सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो आप आईटी एक्सपर्ट के तौर पर इंडियन आर्मी, नेवी, पुलिस, एयरफोर्स, बैंकिंग सेक्टर, एसएससी (SSC Jobs), रेलवे, एजुकेशन आदि सेक्टर में काम कर सकते हैं।

Q. BCA और DCA में क्या अंतर है?

Ans : BCA (Bachelor of Computer Application) कंप्यूटर एप्लिकेशन में बैचलर डिग्री का कोर्स है, जबकि DCA (Diploma in Computer Application) कंप्यूटर एप्लिकेशन में डिप्लोमा कोर्स होता है। DCA कोर्स को किसी भी स्ट्रीम के स्टूडेंट्स कर सकते हैं, लेकिन BCA कोर्स को सिर्फ PCM (Physics, Chemistry, Math) सब्जेक्ट के स्टूडेंट्स ही कर सकते हैं। BCA कोर्स तीन साल का होता है, जबकि DCA कोर्स 6 माह से लेकर 3 साल तक का हो सकता है।

Q. MCA और BCA में क्या अंतर है?

Ans : MCA (Master in Computer Application) कंप्यूटर एप्लिकेशन में एक मास्टर डिग्री है और BCA (Bachelor of Computer Application) कंप्यूटर एप्लीकेशन में एक बैचलर डिग्री का कोर्स है। BCA कोर्स कंप्लीट करने के बाद MCA कोर्स किया जा सकता है।

तो दोस्तों ऊपर आर्टिकल में हमने आपको BCA की फुल फॉर्म (BCA Full Form) : Bachelor of Computer Application के बारे में डिटेल में जानकारी दी है। उम्मीद करते हैं की इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको BCA कोर्स क्या होता है? BCA की फुल फॉर्म क्या होती है?, BCA कोर्स कैसे करें? आदि के बारे में अच्छे से समझ आ गया होगा। 

दोस्तो यदि आपको इस फील्ड से जुड़ा कोई सवाल है तो आप कमेन्ट कर के जरूर पूछे और इस पोस्ट को अपने दोस्तों मे भी जरूर शेयर करें। आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए धन्यवाद!

 मिस्टर नितिन कुमार the nitin tech.com के Founder और Author है। इन्हें हमेशा से टेक्नोलॉजी से सम्बंधित जानकारी लेना और उसे लोगो के साथ शेयर करना पसंद है। अगर आपको इनके द्वारा शेयर की गई जानकारी अच्छी लगती है तो आप इन्हे Social Media पर फॉलो कर सकते है। Thank You!

इसे शेयर करें

Leave a Comment